May 18, 2024

(मुंगेली ) जिले में एक महिला ने अपने 3 साल की मासूम बच्ची को घने जंगल में छोड़कर घर लौट आईं, जंगल में बच्ची की भूख-प्यास से मौत हो गई। 4 दिन खोजबीन के बाद पुलिस ने शव को बरामद कर लिया है। पूरा मामला लोरमी थाना क्षेत्र के खुड़िया चौकी का है।

बताया जा रहा है कि ग्राम पटपरहा की महिला सरपंच संगीता पंद्राम 6 मई को घरेलू विवाद के बाद गुस्से में 3 वर्षीय अनुष्का और एक वर्षीय बेटे को अपने साथ लेकर शाम को मायके जाने पैदल ही निकल गई। महिला का मायके तकरीबन 25 किमी दूर मध्यप्रदेश के डिंडौरी जिले के गोपालपुर में स्थित है।

एसडीओपी माधुरी धीरही ने बताया कि महिला सरपंच ने बच्ची को अचानकमार टाइगर रिजर्व एरिया में स्थित 5 किमी दूर मैलू पहाड़ी पर छोड़ घर आ गई थी, जिसकी जानकारी महिला ने अपने पड़ोसियों की दी थी। पति शिवराम पंद्राम को पता चलते ही रात में अपने साथियों के साथ बच्ची को खोजने जंगल चले गए, लेकिन बच्ची का पता नहीं चल पाया।


घटना के दूसरे दिन मृत बच्ची के पिता ने खुड़िया चौकी पहुंचकर घटना की जानकारी दी, जिसके बाद खुड़िया पुलिस भी परिवार वालों के साथ बच्ची की खोजबीन शुरू की। इस दौरान बच्ची की मां ठीक तरह से ये नहीं बता पा रही थी कि बच्ची को जंगल के किस हिस्से में छोड़ी है,जिसके चलते परिजन और पुलिस लगातार खोजबीन करते रही।


पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक 24 घंटे में जब बच्ची का पता नहीं लगाया जा सका तब पुलिस ने गुम इंसानकी रिपोर्ट दर्ज की और कई टीम बनाकर खोजबीन शुरू की। इस दौरान 9 तारीख की रात को बच्ची की लाश पहाड़ी के ऊपर मिली। पुलिस ने मर्ग कायम कर उसे पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।


4 दिन पुरानी लाश मिलने पर शव परीक्षण में पुलिस ने पाया है कि बच्ची के शव में किसी तरह के जंगली जानवरों के निशान नहीं पाए गए हैं। वहीं शव पुरानी होने की वजह से उसमे कीड़े लग गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *