July 10, 2024

कबीरधाम। आखिर ऐसा क्या हुआ कि माता पिता को ही अपने 35 वर्षीय औलाद की हत्या करना पड़ा, और इतना ही नहीं दोनों ने हत्या करने के लिए पहले करंट लगाया फिर बेहोश होने के बाद गला घोंट दी।इस मामले में पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार कवर्धा के सीटी कोतवाली थाना क्षेत्र के घुघरीकला गांव में मंगलवार को सुबह खेत के झोपड़ी में राजू राजपूत 35 वर्ष की संदिग्ध अवस्था में लाश मिली थी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा और छानबीन शुरु की। मृतक का शव उसी के खेत में मिला था। मृतक के गले में कटने के निशान पाए गए। पुलिस को शव देखकर पहले से ही परिवार पर शक हो गया था। गांव में पूछताछ करने पर पता चला कि मृतक राजू जुआ-सट्टा खेलता था और पैसे के लिए अपने माता-पिता को तंग करता था और पैसा नहीं देने पर उन्हें गाली गलौच करने के साथ मारपीट करता था। पुलिस ने इसी को आधार बनाकर मृत युवक के पिता से पूछताछ की तो काफी समय तक गुमराह करता रहा। लेकिन बाद में पिता जगदीश राजपूत ने अपनी जुर्म कुबूल कर लिया। आरोपी पिता ने बताया कि उसका बेटा शादीशुदा था, दो बेटियां हैं। लेकिन वह कोई काम-धाम नहीं करता था, और जुआ सट्टा खेलने का आदी हो चुका था। रोज पैसा बरबाद कर रहा था। पैसा नहीं देने पर आए दिन घर में मारपीट करता था। इससे तंग आकर पति-पत्नी दोनों ने बेटे के हत्या की साजिश रची। बेटे को ट्यूबवेल को बनाने के बहाने खेत में बुलाया और करंट के तार को उसके गले में लगाकर उसे घायल कर दिया। जिसके बाद गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। इस मामले पर पुलिस ने मृतक की मां कुमारी राजपूत 50 वर्ष और पिता जगदीश राजपूत 55 वर्ष को गिरफ्तार कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *